एड्स के 9 प्रमुख लक्षण आपको पता होना जरुरी है.एचआईवी एड्स के लक्षण कौनसे है?

एचआईवी एड्स के लक्षण

एचआईवी एड्स की गंभीरता और एचआईवी एड्स के लक्षण

एचआईवी एड्स के लक्षण जानने से पहले एचआईवी एड्स की गंभीरता के बारे में जानना जरुरी है.एड्स एक ऐसा सिंड्रोम है जिसका संपूर्ण इलाज अबतक नही मिल पाया है.लेकिन एड्स का प्रभाव कम करने के लिए उपचार मौजूद है. 2017 के रिपोर्ट के मुताबिक दुनियाभर में करीब करीब 9,40,000 लोगों की मृत्यु एचआईवी और इससे जुड़े रोगों की वजह से हुयी थी.नेशनल एड्स कंट्रोल आर्गेनाईजेशन के मुताबिक साल 2015 में भारत में तकरीबन 21 लाख लोग एड्स से ग्रस्त थे.जबकि यह तादात साल 2005 में 1.5 लाख थी.

यह भी पढ़िए:-

एड्स (AIDS) का मतलब एक्वायर्ड इम्यूनो डेफिशियेंसी सिंड्रोम होता है.एड्स को लेकर भारतीय समाज में जो गलतफहमी है उसे समझना जरुरी है.भारत में एड्स को बीमारी समझा जाता है जब की यह एक तरह का सिंड्रोम है.एड्स एचआईवी (HIV) नाम के वायरस से होता है. एचआईवी का मतलब ह्यूमन इम्यूनो डेफिशियेंसी वायरस होता है.यह वायरस इंसान के शरीर में पहुचकर इंसानी शरीर की रोगप्रतिकारक शक्ति को ख़त्म कर देता है.जिसके वजह से शरीर बीमारियों से लड़ने में असक्षम हो जाता है और कमजोर हो जाता है.

भारतीय सरकार लगातार एड्स के निर्मूलन करने के लिए इससे संबंधित जनजागृति कर रही है.एड्स होने के कारणो और एचआईवी एड्स के लक्षण के बारे में जनजागृती की वजह से एड्स से पीड़ित लोगों की संख्या कम हो रही है.भारत सरकार ने साल 2024 तक भारत को एड्स से मुक्त करने का संकल्प लिया है.

एचआईवी एड्स के लक्षण

एचआईवी एड्स के लक्षण हिव एड्स के लक्षण सामने आने के लिए काफी समय लग जाता है.अलग अलग व्यक्ति के लिए यह समय अलग अलग होता है.कई बार एड्स से पीड़ित व्यक्ति को शुरुआत में कुछ लक्षण दिखते है,बादमे यह लक्षण गायब हो जाते है.पीड़ित व्यक्ति को लगता है की उसकी बिमारी ठीक हो गयी है. लेकिन 8-10 साल बाद यह बिमारी गंभीर स्वरुप लेकर सामने आ जाती है,जिससे बच पाना नामुमकिन हो जाता है.

एड्स के शुरुआती लक्षण आम बुखार की तरह होते है.इसलिए ज्यादातर लोग इसे आम बुखार समझकर अनदेखा कर देते है.बादमे यही लापरवाही इंसान के जान पर बन आती है.इस आर्टिकल में हम कुछ आम एचआईवी एड्स के लक्षण बता रहे है.एड्स के यह शुरुआती लक्षण सामने आनेपर अस्पताल में अपनी जाँच करवाना बेहद जरुरी है.

बुखार

तेज बुखार आना एचआईवी एड्स के लक्षण में से प्रमुख लक्षण है.एचआईवी एड्स के मरीज को बार बार बुखार आता है.ज्यादातर लोग इसे आम बुखार समझने की गलती करते है,लेकिन यह बुखार जानलेवा हो सकता है.

सिरदर्द
एचआईवी एड्स के लक्षण में सिरदर्द भी शामिल है.सिरदर्द होने के पीछे कई वजह हो सकती है.लेकिन आपके मन में अगर संभ्रम हो तो तेज सिरदर्द होने पर अस्पताल में जाकर जाँच जरूर करवाए.

थकान

एड्स का संक्रमण होने से इंसानी शरीर की रोगप्रतिकारक शक्ति कम हो जाती है. सिरदर्द,बुखार,बदन दर्द जैसी मामूली बीमारिया भी इंसान सह नही पाता. इसी वजह से इंसान का शरीर थक जाता है.एड्स का संक्रमण होने पर थकान महसूस होना आम बात है.

मासपेशियां और जोड़ो का दर्द

मासपेशियों में खिंचाव होना,जोड़ो का घिसाव होना एचआईवी एड्स के लक्षण होते है.एचआईवी एड्स के शुरुआती दौर में यह लक्षण देखने को मिलते है.एड्स के संक्रमण के बाद शरीर कमजोर पड जाता है. शरीर की मासपेशियां अकड़ने लगती है.इसके साथ साथ मासपेशियों में दर्द होने लगता है.

दस्त, उल्टी और मतली

एड्स के शुरुआती लक्षणों में दस्त लगना, मतली और उल्टी होना शामिल है.कमजोर शरीर की वजह से यह लक्षण सामने आते है.एचआईवी से ग्रस्त इंसान को खाना हजम करने में दिक्कत होती है.इसलिए उसे दस्त और उल्टियां होती है.

मुँह में छाले आने

मुँह में छाले आना एचआईवी एड्स के लक्षण में से प्रमुख शुरुआती लक्षण है.एड्स का संक्रमण हो जानेपर कईबार मुँह के साथ साथ जननांग पर भी छाले आते है.ऐसा कोई लक्षण सामने आनेपर तुरंत जाँच करवाना जरुरी होता है.

रात में पसीना आना

एड्स संक्रमण के बाद मरीज को रात को सोते समय बेहद अधिक मात्रा में पसीना आता है.यह पसीना इतना अधिक होता है की पसीने की वजह से बिस्तर तक गिला हो जाता है.

गले में खराश

एड्स पीड़ित व्यक्ति को शुरुआत में गले में खट्टापन महसूस होता है.इसके बाद मरीज के गले में खराश की समस्या हो जाती है.

त्वचा पर चकत्ते आना
त्वचा पर चकत्ते यानि रैशेज आना एचआईवी एड्स के लक्षण में से एक है.एड्स के संक्रमण के बाद मरीज को बेहद अधिक मात्रा में पसीना आता है.पसीने की वजह से मरीज के शरीर पर चकत्ते आते है.

नोट :- इस आर्टिकल में बताये गए सभी एचआईवी एड्स के लक्षण अन्य किसी बिमारी की वजह से भी हो सकते है.इन लक्षणों का दिखना मतलब एड्स की पुष्टि होना नही होता.ऎसे किसी लक्षण के सामने आनेपर अस्पताल में जाकर जाँच करवाना जरुरी है.

शेयर करे !