बिटकॉइन क्या है- व्हाट इस बिटकॉइन, बिटकोइन प्राइस

बिटकॉइन क्या है

बिटकॉइन क्या है – व्हाट इस बिटकॉइन

बिटकॉइन क्या है? व्हाट इस बिटकॉइन और बिटकोइन प्राइस
                          क्रिप्टोकरंसी बिटकॉइन का सांकेतिक चित्र

 

नामबिटकॉइन
खोजकर्तासातोशी नाकामोटो
पहला इस्तेमाल9 जनवरी 2009
यूनिटBTC,XBT
सब-यूनिटसातोशी,मिलिबिट, सेंटिबिट
हेक्टोबिट,मेगाबिट, किलोबिट
कुल बिटकॉइन
(मार्केट में उपलब्ध)
20000000
कुल बिटकॉइन
(लेनदेन में जारी)
16,858,762
(11 फरवरी 2018 तक )
वेबसाइटwww.bitcoin.org

बिटकॉइन क्या है? व्हाट इस बिटकॉइन और बिटकोइन प्राइस गूगल पर सबसे ज्यादा सर्च होने वाले सवाल है. बिटकॉइन देश और दुनियाभर में इस्तेमाल किए जानेवाली पहली क्रिप्टोकरंसी यानि चलन है. बिटकॉइन पर किसी भी बैंक, सरकार, संस्था का कंट्रोल नही है.इसी वजह से यह चलन विवादित है.बिटकॉइन पूरी तरह से डिजिटल है.नोट, सिक्के, सोना,चाँदी, क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड की तरह बिटकॉइन को छुआ या देखा नही जा सकता. बिटकॉइन को डिजिटल वॉलेट में संभालकर रखा जा सकता है और लेनदेन के लिए रुपयो की तरह इस्तेमाल किया जा सकता है.

बिटकॉइन का इतिहास

बिटकॉइन क्या है? व्हाट इस बिटकॉइन और बिटकोइन प्राइस
                            बिटकॉइन का सांकेतिक चित्र

क्रिप्टोकरंसी बिटकॉइन की कल्पना साल 2008 में जापान के सातोशी नाकामोटो (Satoshi Nakamoto) ने रखी और 9 जनवरी 2009 में इसे एक सॉफ्टवेयर की मदत से बाजार में लाया गया.तब बिटकॉइन को लेकर लोगो की मन में संभ्रम पैदा हुआ और यह कल्पना नाकामयाब रही. लेकिन कई तरह के गैरव्यवहारों में इसका इस्तेमाल होना शुरू हो गया था. डिमांड ज्यादा और सप्लाई कम होने की वजह से धीरे धीरे बिटकॉइन की कीमते बढती गयी. और इन्ही बढती कीमतों की वजह से साल 2016 इसे रीलॉन्च किया गया था.लॉन्च होने के एक साल बाद यानी साल 2010 में एक बिटकॉइन की कीमत तकरीबन $0.03 USD थी और फ़िलहाल (पोस्ट लिखने तक) एक बिटकॉइन की कीमत $6036 USD हो गयी है. अनुमान है की साल 2020 तक एक बिटकॉइन की कीमत $25,000 USD हो जायेगी और साल 2022 तक एक बिटकॉइन की कीमत $1,25,000USD हो जायेगी.

बिटकॉइन क्या है-बिटकॉइन का लेनदेन

बिटकॉइन का सबसे पहला लेनदेन सातोशी नाकामोटो और कैलिफोर्निया में रहने वाले कंप्यूटर साइंटिस्ट हेरोल्ड फिने के बिच हुआ था.यह लेनदेन 10 बिटकॉइन का था. इसके बाद साल 2011 सिल्क रोड नाम के ऑनलाइन ब्लैक मार्किट में बड़े पैमाने में बिटकॉइन का लेंन दें हुआ. एक साल में तकरीबन 90 लाख बिटकॉइन का लेनदेन हुआ जिसकी कीमत तकरीबन 214 मिलियन अमेरिकन डॉलर थी. इसके बाद साल 2012 में बिटकॉइन डेवलपमेंट के लिए बिटकॉइन फाउंडेशन की स्थापना हुयी और एक साल के भीतर बिटकॉइन की कीमत $0.30USD से बढ़कर $5.27 USD हो गयी.

बिटकॉइन की कीमतों का इतिहास- Bitcoin price history

बिटकॉइन क्या है? व्हाट इस बिटकॉइन और बिटकोइन प्राइस
                                    चढ़ उतार वाला ग्राफ
  • साल 2013 के शुरुवात में बिटकॉइन की कीमत $ 267USD हो गयी और सालभर इसके बढ़ोतरी हुयी. नवम्बर तक बिटकॉइन की कीमत $730 USD बढ़ चुकी थी. लेकिन इसी साल में अमेरिका के फाइनेंसियल क्राइम एनफोर्समेंट नेटवर्क ने बिटकॉइन के इस्तेमाल पर प्रतिबंद लगा दिया और ब्लैक मार्किट की वेबसाइट ‘silk road’ पर करवाई की. इस करवाई में तकरीबन 26,000 बिटकॉइन को सीज़ कर दिया गया.इसके बाद बिटकॉइन की कीमतों में भारी गिरावट हुयी.
  • 5 दिसंबर 2013 में चीन के “पीपल बैंक ऑफ़ चाइना” ने बिटकॉइन की लेनदेन पर रोख लगा दी.चीन की सरकार के मुताबिक असली सामान के खरीदने बेचने के लिए काल्पनिक चलन का उपयोग करना गैरक़ानूनी है और इसी उसुलो के चलते “Baidu” जैसी कंपनियों ने बिटकॉइन का इस्तेमाल बंद कर दिया. चीन के इस कदम से बिटकॉइन की कीमते तेजी से गिर गयी.
  • साल 2014 के शुरुआत में एक बिटकॉइन की कीमत $770 USD थी. उस वक़्त बिटकॉइन का व्यव्हार करने वाली सबसे बड़ी कंपनी “माउंट गोक्स एक्सचेंज” के ग्राहकों के वॉलेट में से तकरीबन 8,50,000 बिटकॉइन चोरी हो गए जिसकी मार्किट में कीमत 500 मिलियन अमेरिकन डॉलर थी. इसी के चलते साल के अंत में बिटकॉइन की कीमत सिमटकर $314 USD रह गयी.
  • 2015 के शुरुआत में बिटकॉइन की किमत $314 USD थी जो साल के अंत में बढकर $434 USD हो गयी.
  • साल 2016 में बिटकॉइन की कीमत $434 USD से बढ़कर $998 USD हो गयी.
  • 2017 में बिटकॉइन की कीमत $998 USD से बढकर अब तक की उच्चतम कीमत $19666 USD हो गयी थी. लेकिन सितम्बर 2017 में चीन की सरकार ने क्रिप्टोकरंसी के खिलाफ कड़ा कदम उठाते हुए 1 फरवरी 2018 के बाद क्रिप्टोकरंसी को बैन करने का ऐलान किया.चीन के इस ऐलान की वजह से बिटकॉइन की कीमत घटकर साल के अंत में $5920 USD हो गयी.
  • साल 2018 में बिटकॉइन की कीमत $5848 USD से लेकर $11480 USD के बिच में रही है.

बिटकॉइन क्या है – बिटकॉइन की गणना कैसे होती है

बिटकॉइन क्या है? व्हाट इस बिटकॉइन और बिटकोइन प्राइस
                  सांकेतिक बिटकॉइन और उसका यूनिट सातोशी

जिस तरह डॉलर को USD, रुपयो को INR कहा जाता है उसी तरह बिटकॉइन को BTC कहा जाता है. 1BTC का मतलब एक बिटकॉइन होता है.जिस तरह पैसा भारतीय रुपये का सबसे छोटा यूनिट है उसी तरह सातोशी बिटकॉइन का सबसे छोटा यूनिट है.

  • 1 Satoshi ( सातोशी) = 0.00000001 BTC
  • 1 microbit (माइक्रोबिट)=0.000001 BTC
  • 1 milibit( मिलिबिट) = 0.001 BTC
  • 1 centibit ( सेंटिबिट) = 0.01 BTC
  • 1 Desibit (डेसिबिट) = 0.1 BTC
  • 1 Dekabit (डेकाबिट) = 10 BTC
  • 1 Hectobit (हेक्टोबिट) = 100 BTC
  • 1 kilobit( किलोबिट) = 1000 BTC
  • 1 megabit (मेगाबिट) = 1000000 BTC

बिटकॉइन क्या है – बिटकॉइन की वैधता

बिटकॉइन क्या है? व्हाट इस बिटकॉइन और बिटकोइन प्राइस
   बिटकॉइन के सरकारी व्यवहारों में इस्तेमाल को लेकर दुनियाभर में संभ्रमता है

दुनिया के कई जानेमाने देशो ने बिटकॉइन को बैन किया है और इसके इस्तेमाल पर रोख लगा दी है. इन देशो में चीन,रशिया,बांग्लादेश,थाईलैंड,वियतनाम,स्वीडन, आइसलैंड,नेपाल और एक्वीडोर जैसे देश शामिल है.

दुनिया के कई देशो में बिटकॉइन को इस्तेमाल करने की इजाजत है लेकिन बिटकॉइन को सरकारी व्यवहारों में इस्तेमाल करने की इजाजत अबतक किसी भी देश में नही है.

भारत में बिटकॉइन को लेकर संभ्रम-

भारत भी उन्ही देशो की सूची में है जहा बिटकॉइन की वैधता को लेकर संभ्रमता है.भारतीय संसद में बिटकॉइन को लेकर अबतक कोई ठोस कानून बना नही है.भारत में वैयक्तिक तौर पर बिटकॉइन के व्यव्हार को मान्यता है लेकिन बैंक और सरकारी सौदों में बिटकॉइन का इस्तेमाल व्यवहार्य नही है.रिजर्व बैंक ऑफ़ इंडिया ने क्रिप्टोकरंसी की खरीदारी पर फ़िलहाल रोख लगाई है.

शेयर करे !