लहसुन खाने से क्या होता है ? lahsun khane se kya hota hai ?

लहसुन खाने से क्या होता है -lahsun khane se kya hota hai ?

अक्सर लोगों के मन में lahsun khane se kya hota hai इसके बारे में संभ्रम रहता है.पुरातन काल से लहसुन का इस्तेमाल औषधीय तरीकों से किया जा रहा है.आज भी दात दर्द और सर्दी जुखाम जैसे समस्याओं के लिए लहसुन का इस्तेमाल किया जाता है.बीमारियों के अलावा खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए लहसुन का प्रयोग होता है.भारत के अधिकांश राज्यो में लहसुन की खेती होती है.लहसुन की कलिया मसाले में इस्तेमाल की जाती है.लहसुन की हरे पत्तियो का इस्तेमाल सब्जी और चटनी में किया जाता है.


यह भी पढ़िए:-


लहसुन खाने के कई फायदे है,साथ ही लहसुन खाने से कई नुकसान भी हो सकते है.अगर आप लहसुन सेवन के फायदे और नुकसान के बारे में अधिक जानना चाहते है तो इस आर्टिकल को अंत तक पढ़िए.इस आर्टिकल में हम lahsun khane se kya hota hai और लहसुन के फायदे और नुकसानों को विस्तार से समझाने की कोशिश करेंगे.

लहसुन के प्रकार – lahsun khane se kya hota hai

अधिकांश लोग लहसुन के बारे में जानते है लेकिन लहसुन के प्रकारों के बारे में बेहद कम जानकारी उपलब्ध है.भारत में तिन तरह के लहसुन का इस्तेमाल किया जाता है.

  • जंगली लहसुन
  • हरा लहसुन
  • साधारण लहसुन

अब इनमेसे हरा और साधारण लहसुन हम सब को पता है.लेकिन जंगली लहसुन के बारे में बेहद कम लोग जानते है.लहसुन की अंकुरण के बाद फलने वाली पत्तियो को हरा लहसुन कहते है.इस अवस्था में हरा लहसुन काटकर उसका इस्तेमाल सब्जी और चटनी में किया जाता है.दक्षिणी भारत में हरे लहसुन के दोसे और पराठे बनाये जाते है.सर्दियों के मौसम में हरे लहसुन का इस्तेमाल अधिक मात्र में किया जाता है.

सफ़ेद लहसुन या साधारण लहसुन से हम सब परिचित है.यह लहसुन हर घर के रसोई में पाया जाता है.सब्जी, चटनी और तड़के में इस लहसुन का प्रयोग होता है.इस लहसुन में भी बहोतसी औषधीय गुण होते है.

जंगली लहसुन जिसे कई जगहों पर पहाड़ी लहसुन या हिमालयी लहसुन कहते है.जंगली लहसुन को खाया नही जाता.इस लहसुन का इस्तेमाल ज्यादातर दवाई बनाने में होता है.बेहद कम जगह उगने की वजह से यह महंगा होता है.

लहसुन सेवन के फायदे – lahsun khane se kya hota hai

lahsun khane se kya hota hai

लहसुन में एंटी फंगल एंटी ऑक्सीडेंट और एंटी बॅक्टेरियल गुण होते है.साथ ही लहसुन में सल्फर और एलोसिंन होता है.लहसुन सेवन के कई फायदे है.इनमेसे कुछ प्रमुख फायदों को हम जानेंगे.

  • शारीरिक कमजोरी में लहसुन बेहद लाभदायक होता है. रोजाना खाली पेट लहसुन सेवन से नई ऊर्जा हासिल होती है.
  • वजन कम करने में लहसुन कारगर साबित होता है.मोटापे से जुडी हर समस्या का समाधान लहसुन में होता है.
  • हाईब्लड प्रेशर में भी लहसुन बेहद लाभदायक होता है.यह ब्लड प्रेशर को मेन्टेन करता है.
  • सर्दी जुखाम में लहसुन की कुछ कलिया चबाने से राहत मिलती है.
  • कोलेस्ट्रॉल कम करने में लहसुन मदत करता है.दिल की बीमारियों से बचने के लिए लहसुन का सेवन करना चाहिए.
  • मधुमेह यानि डायबिटीज से बचने के लिए भी लहसुन बेहद मदतगार होता है.
  • लहसुन संक्रमण से होनेवाली बीमारियों से रक्षण करता है.वायरल इन्फेक्शन के दौरान लौंग और लहसुन को अपनी रुमाल में रखना चाहिए.
  • दांत के दर्द से लहसुन राहत दिलाता है.दांत दर्द होनेपर लहसुन की एक कली को दांत में दबा लेना चाहिए.
  • दाद खाज,झुर्रियां छाले कम करने के लिए लहसुन का सेवन किया जाता है.
  • दमा अस्थमा के मरीजो को लहसुन का सेवन करना चाहिए.
  • बालो की समस्या के लिए लहसुन का सेवन फायदेमंद होता है.लहसुन के सेवन से बाल झड़ना और डेंनड्राफ् की समस्या दूर होती है.

लहसुन सेवन के नुकसान – lahsun khane se kya hota hai

lahsun khane se kya hota hai

वैसे तो लहसुन के सेवन के कुछ खास नुकसान नही होते.फिर भी किसी भी चीज का आवश्यकता से अधिक सेवन करने पर उसके दुष्प्रभाव सामने आते है.इसी तरह लहसुन का प्रमाण से अधिक सेवन कई समस्याओं को उत्पन्न करता है.लहसुन के अधिक सेवन से होनेवाले नुकसान कुछ इस प्रकार है.

  • लहसुन खाने से आपके मुँह से दुर्गंधी आती है.कई लोगो को यह गंध पसंद नही होती.
  • स्वाभाव से गर्म होने की वजह से लहसुन सर्दियों में उपयुक्त होता है.लेकिन गर्मियों में इसका सेवन हानिकारक होता है.
  • माइग्रेन या सिरदर्द में लहसुन का सेवन नही करना चाहिए.
  • लो ब्लड प्रेशर के मरीजो को लहसुन का सेवन नही करना चाहिए.
  • लिवर से जुडी समस्या होनेपर लहसुन का सेवन नही करना चाहिए.
  • लहसुन के अधिक सेवन से रक्तस्राव होता है.ऑपरेशन और सर्जरी में लहसुन का सेवन नही करना चाहिए.

●◆★ समाप्त ★◆●

नोट:- हमें उम्मीद है आपको आपका सवाल “lahsun khane se kya hota hai” का जवाब मिल गया होगा.इस आर्टिकल में लिखी गयी सभी जानकारी को लिखनें मे बेहद सावधानी बरती गयी है.फिर भी किसी भी प्रकार त्रुटि की संभावना से इनकार नही किया जा सकता. इसके लिए आपके सुझाव कमेंट के माध्यम से सादर आमंत्रित हैं.

शेयर करे !