मोरनी प्रेग्नेंट कैसे होती है? Mor pregnant kaise hoti hai ?

Mor pregnant kaise hoti hai – मोरनी कैसे प्रेग्नेंट होती है ?

Mor pregnant kaise hoti hai -मोर एक बहुत ही सुंदर वन्य पक्षी है.भारत में मोर को पक्षियों का राजा कहा जाता है.भारतीय संस्कृति में मोर का वर्णन मिलता है, इसलिए भारत सरकार ने 26 जनवरी,1963 को मोर को राष्ट्रीय पक्षी घोषित किया था.भारत समेत श्रीलंका म्यांमार का राष्ट्रीय पक्षी भी मोर ही है.

अन्य जिव जंतुओं की तरह मोर में भी नर और मादा होते है.औसतन मोर पक्षी की आयु 25-30 साल होती है.लेकिन अवैध शिकारी, सुका,बाढ़ जैसी नैसर्गिक आपदा की वजह से मोर की आयु घट जाती है.मोर मांसाहारी और शाकाहारी दोनों तरह का खाना खाते है.आमतौर पर मोर छोटे किट,जंतु,मांस के टुकड़े,पौधे,और गिरियां खाते है.

Mor pregnant kaise hoti hai – नर मोर का विवरण

नर मोर पक्षी की लम्बाई तकरीबन 215 सेंटीमीटर और ऊँचाई तक़रीबन 50 सेंटीमीटर होती है.वही मादा मोर की लम्बाई तकरीबन 95 सेंटीमीटर होती है.नर मोर पक्षी अपने आकर्षक पंखो के कारण जाना जाता है. इन पंखो की संख्या उम्र के हिसाब से बढती जाती है.एक वयस्क मोर के तकरीबन 100-120 पंख हो सकते है.साल में एक बार जुलाई-अगस्त के महीने में मोर के सभी पंख झड़ जाते हैं. बादमे ग्रीष्म ऋतु के आने से पहले ये पंख फिर से निकल आते हैं.आम तौर पर मोर नीले रंग में पाया जाता है.लेकिन दुनिया के कुछ इलाको में इनका रंग सफेद भी होता है.

Mor pregnant kaise hoti hai – मादा मोरनी का विवरण

मादा मोरनी के पंख उतने आकर्षक नही होते.मोरनी अन्य पक्षियों की तरह घोंसला नहीं बनाती. मोरनी जमीन पर ही सुरक्षित रूप से कचरे की ढेर में अपने अंडे देती है.ज्यादातर हालात में मोरनिया समूह में रहती है. इन समूहों में 5/6 मादा और एक नर होता है.प्रजनन के मौसम में यह झुंड बनते बिघडते है.

Mor pregnant kaise hoti hai – मोर प्रजातियों में प्रजनन प्रक्रिया

mor pregnant kaise hoti hai
क्लोका किसिंग द्वारा मोर का प्रजनन

मोर प्रजाति का प्रजनन बरसात के दिनो में होता है.कई प्रजातियों में और क्षेत्रों के हिसाब से यह अवधी अलग अलग हो सकती है.प्रजनन में मोर अपनी आकर्षक पंखो से मादा को रिझाने की कोशिश करता है.हर मोर अपने समूह की मोरनियो पर हक़ जताता है. लेकिन मोरनिया सबसे आकर्षक नर को अपना साथी चुनती है.और जरुरत पडने पर अपना समूह बदलती है.

मोर मोरनी में भी अन्य पक्षीयो की तरह “क्लोका किसिंग” द्वारा प्रजनन होता है.क्लोका पक्षियों का वह छिद्र है जिससे पक्षी मलमूत्र विसर्जन करते है. मुर्गिया भी क्लोका के द्वारा ही अंडे देती है. नर मादा दोनों में क्लोका होता है.नर मोर अपना वीर्य क्लोका द्वारा मादा की क्लोका में छोडता है.जिससे मादा गर्भवती होती है और अंडे देती है.

शेयर करे !