VVPAT kya hota hai – वीवीपीएटी क्या है ?

VVPAT kya hota hai

VVPAT kya hota hai – वीवीपीएटी क्या है ?

VVPAT kya hota hai – वीवीपीएटी का फुल्लफॉर्म वोटर वेरिफैबल पेपर ऑडिट ट्रेल है.यह एक तरह की मशीन है, जिसे चुनाव के वक़्त वोटर के डाले हुए वोट की पुष्टी के लिए इस्तेमाल किया जाता है.

वीवीपीएटी का इस्तेमाल कैसे होता है -VVPAT ka istemal kaise hota hai ?

वीवीपीएटी के जरिए मतदाता को यह पता चलता है कि उसने जिस प्रत्याशी के नाम का बटन दबाया है वोट उसी को गया है की नहीं.

इसका मतलब वीवीपीएटी एक तरीके से आपके वोट की रसीद होती है. वीवीपीएटी एक प्रिंटर जैसी मशीन होती है.जब भी कोई वोटर ईवीएम मशीन पर किसी एक खास उम्मीदवार को वोट देता है. तब वीवीपीएटी मशीन से एक पर्ची निकलती है. इस पर्ची को वोटर कुछ सेकंद तक देख सकता है.बादमे यह पर्ची वीवीपीएटी मशीन के ड्रॉपबॉक्स में जमा हो जाती है.इस पर्ची पर वोटर ने जिस उम्मीदवार को वोट दिया उसका नाम और उसकी पार्टी का चुनाव चिन्ह होता है. जिसे देखकर मतदाता को इस बात की तसल्ली हो जाती है कि उसका वोट सही जगह पर गया है.

वीवीपीएटी का इस्तेमाल जरुरत पडने ईवीएम में पड़े वोटों की संख्या से मिलाया जा सकता है.जिसकी मदत से दोनों जगह पर डाले गए वोटों की पुष्टि होती है.

VVPAT kya hota hai – वीवीपीएटी का भारत में इस्तेमाल

VVPAT kya hota hai

भारत में पहली बार सितंबर 2013 में नागालैंड के नाकसेन विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के चुनाव में वीवीपीएटी का इस्तेमाल किया गया था.

साल 2014 के आम चुनावों के दौरान प्रायोगिक तौर पर वीवीपीएटी का इस्तेमाल किया गया. इस प्रयोग मे 543 लोकसभा सीटों में से 8 लोकसभा सीटों पर वीवीपीएटी का इस्तेमाल किया गया.इन सीटों में लखनऊ, गांधीनगर, बैंगलोर दक्षिण, चेन्नई सेंट्रल, जादवपुर, रायपुर, पटना साहिब और मिजोरम की लोकसभा सीट शामिल थी.

भारतीय निर्वाचन आयोग आनेवाले लोकसभा चुनावों में सभी लोकसभा क्षेत्रो में वीवीपीएटी मशीन का इस्तेमाल करनेवाला है.

शेयर करे !